साबुन का रंग कोई भी हो,लेकिन झाग सफेद ही क्यों निकलता है ? सच्चाई जानोगे तो आप अपना सिर पकड़ लोगे

क्या आपने कभी सोचा है कि साबुन का झाग सफेद ही क्यों रहता है? कई वस्तुएं ऐसी भी होती है जिन्हें हम अपनी जिंदगी में रोज उनका प्रयोग करते रहते है लेकिन हमें उनके बारे में कई ऐसे तथ्य है जो हमें पता नहीं रहते है। बस इनका उपयोग करते जाते है। आज आपको एक ऐसी चीज के बारे में बताने वाले है जिसको हर इंसान रोजाना ही उसका उपयोग करता आ रहा है।

Loading...

दोस्तों नहाते-धोते समय हम कई रंग के साबुन का उपयोग करते रहते हैं, लेकिन झाग सफेद रंग के ही क्यो निकलते रहते है। इसके पीछे क्या तथ्य है। आज आपको बताते है कि इसके पीछे का विज्ञान क्या है। हम लोग बचपन से ही देखते आ रहे है कि हमेशा साबुन कोई सा भी रंग का हो लेकिन झाग सफेद ही निकलते रहते है।

Loading...

जिसके कारण कोई भी चीज रंग ग्रहण करता है। दोस्तों किसी भी वस्तु का अपना कोई भी रंग नहीं होता है, बल्कि प्रकाश के वजह से वो खास रंग का दिखता है। गौरतलब है कि कोई भी वस्तु जिस रंग को परावर्तित यानि रिफ़्लेक्ट करता है, वो उसी रंग का ही दिखाई देता है। याद होगा कि जो वस्तु सभी रंग को अवशोषित कर लेती है वो काली ही दिखती है।

वहीं सभी रंगों को रिफ़्लेक्ट कर देने वाली चीजें सफेद रंग का ही दिखती है। बता दे साबुन का झाग भी सभी रंगों को रिफ़्लेक्ट कर देती है। दरअसल झाग बुलबुलों से बना ही रहता है और ये प्रकाश को आसानी से परावर्तित कर देता है लिहाजा इसे उजले रंग का देख पाते हैं। यहीं वजह है की झाग सफेद निकलता है उसका।

loading...
Loading...