मायावती का सबसे बड़ा घोषणा, कहा- राजस्थान सरकार ने वापस ले सकते हैं समर्थन…!

बसपा सुप्रीमो मायावती ने पीएम नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर बड़ा गवाही दिया है। मायावती ने कहा कि मोदी का दलित प्रेम नकली है वह अलवर कांड की आड़ में घृणित राजनीति कर रहे हैं। जबकि, मायावती ने ये भी कहा कि यदि अलवर कांड के आरोपियों पर कार्रवाई नहीं हुई तो राजस्थान सरकार से समर्थन वापस ले सकती हैं।

Loading...

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी अब दलितों का वोट पाने के लिए उनके प्रति सहानुभूति दिखा रहे हैं जबकि बीजेपी शासित राज्यों में वह दलित उत्पीड़न पर कुछ भी नहीं बोलते। उन्होंने गुजरात के ऊना कांड में भी अपनी पार्टी के मुख्यमंत्री से इस्तीफा नहीं लिया और न ही रोहित वेमुला कांड में कैबिनेट मंत्री से त्यागपत्र लिया था।

जानकारी हो कि मोदी ने उत्तरप्रदेश की रैली में बसपा प्रमुख मायावती पर सिर्फ गवाहिदारी कर घड़ियाली आंसू बहाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि अगर बहनजी को दलित बेटियों की इतनी ही चिंता है तो इस अपराध को छिपाने वाली राजस्थान सरकार से समर्थन वापस क्यों नहीं लेतीं। स पर मायावती ने कहा कि गुजरात के उना कांड, रोहित बेमुला की मौत और दलितों पर अत्याचार को लेकर मोदी क्यों इस्तीफा नहीं देते हैं। मायावती का सबसे बड़ा घोषणा, कहा- राजस्थान सरकार ने वापस ले सकते हैं समर्थन।

बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर बड़ा गवाही दिया है। मायावती ने कहा कि मोदी का दलित प्रेम नकली है वह अलवर कांड की आड़ में घृणित राजनीति कर रहे हैं। जबकि, मायावती ने ये भी कहा कि यदि अलवर कांड के आरोपियों पर कार्रवाई नहीं हुई तो राजस्थान सरकार से समर्थन वापस ले सकती हैं।उन्होंने कहा कि पीएम मोदी अब दलितों का वोट पाने के लिए उनके प्रति सहानुभूति दिखा रहे हैं जबकि बीजेपी शासित राज्यों में वह दलित उत्पीड़न पर कुछ भी नहीं बोलते। उन्होंने गुजरात के ऊना कांड में भी अपनी पार्टी के मुख्यमंत्री से त्यागपत्र नहीं लिया और न ही रोहित वेमुला कांड में कैबिनेट मंत्री से इस्तीफा लिया था।

जानकारी हो कि मोदी ने उत्तरप्रदेश की रैली में बसपा प्रमुख मायावती पर सिर्फ गवाहिदारी कर घड़ियाली आंसू बहाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि अगर बहनजी को दलित बेटियों की इतनी ही चिंता है तो इस अपराध को छिपाने वाली राजस्थान सरकार से समर्थन वापस क्यों नहीं लेतीं। स पर मायावती ने कहा कि गुजरात के उना कांड, रोहित बेमुला की मौत और दलितों पर अत्याचार को लेकर मोदी क्यों त्यागपत्र नहीं देते हैं।मायावती का सबसे बड़ा ऐलान, कहा- राजस्थान सरकार ने वापस ले सकते हैं समर्थन

बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर बड़ा बयान दिया है। मायावती ने कहा कि मोदी का दलित प्रेम नकली है वह अलवर कांड की आड़ में घृणित राजनीति कर रहे हैं। हालांकि, मायावती ने ये भी कहा कि अगर अलवर कांड के आरोपियों पर कार्रवाई नहीं हुई तो राजस्थान सरकार से समर्थन वापस ले सकती हैं।

Loading...

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी अब दलितों का वोट पाने के लिए उनके प्रति सहानुभूति दिखा रहे हैं जबकि भाजपा शासित राज्यों में वह दलित उत्पीड़न पर कुछ भी नहीं बोलते। उन्होंने गुजरात के ऊना कांड में भी अपनी पार्टी के मुख्यमंत्री से इस्तीफा नहीं लिया और न ही रोहित वेमुला कांड में कैबिनेट मंत्री से इस्तीफा लिया था।

जानकारी हो कि मोदी ने उत्तरप्रदेश की रैली में बसपा प्रमुख मायावती पर सिर्फ बयानबाजी कर घड़ियाली आंसू बहाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि यदि बहनजी को दलित बेटियों की इतनी ही चिंता है तो इस अपराध को छिपाने वाली राजस्थान सरकार से समर्थन वापस क्यों नहीं लेतीं। स पर मायावती ने कहा कि गुजरात के उना कांड, रोहित बेमुला की मौत और दलितों पर अत्याचार को लेकर मोदी क्यों त्यागपत्र नहीं देते हैं।मायावती का सबसे बड़ा घोषणा, कहा- राजस्थान सरकार ने वापस ले सकते हैं समर्थन

बसपा सुप्रीमो मायावती ने पीएम नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर बड़ा गवाही दिया है। मायावती ने कहा कि मोदी का दलित प्रेम नकली है वह अलवर कांड की आड़ में घृणित राजनीति कर रहे हैं। जबकि, मायावती ने ये भी कहा कि यदि अलवर कांड के आरोपियों पर कार्रवाई नहीं हुई तो राजस्थान सरकार से समर्थन वापस ले सकती हैं।

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी अब दलितों का वोट पाने के लिए उनके प्रति सहानुभूति दिखा रहे हैं जबकि भाजपा शासित राज्यों में वह दलित उत्पीड़न पर कुछ भी नहीं बोलते। उन्होंने गुजरात के ऊना कांड में भी अपनी पार्टी के मुख्यमंत्री से त्यागपत्र नहीं लिया और न ही रोहित वेमुला कांड में कैबिनेट मंत्री से त्यागपत्र लिया था।

जानकारी हो कि मोदी ने उत्तरप्रदेश की रैली में बसपा प्रमुख मायावती पर सिर्फ बयानबाजी कर घड़ियाली आंसू बहाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि अगर बहनजी को दलित बेटियों की इतनी ही चिंता है तो इस अपराध को छिपाने वाली राजस्थान सरकार से समर्थन वापस क्यों नहीं लेतीं। स पर मायावती ने कहा कि गुजरात के उना कांड, रोहित बेमुला की मौत और दलितों पर अत्याचार को लेकर मोदी क्यों त्यागपत्र नहीं देते हैं।

loading...
Loading...